हेमंत सोरेन ने ली झारखंड के मुख्यमंत्री पद की शपथ, दूसरी बार संभाला प्रदेश का कमान

This slideshow requires JavaScript.

  • जनता की उम्मीदों पर खरा उतरने की खाई कसम
  • दूसरी बार झारखंड के सीएम बने हैं हेमंत
  • संताल परगना ने चौथा सीएम दिया झारखंड को

रांची/संवाददाता: झारखंड प्रदेश की राजधानी रांची में झारखंड मुक्ति मोर्चा के कार्यकारी अध्‍यक्ष हेमंत सोरेन ने रविवार को झारखंड के मुख्‍यमंत्री पद की शपथ ली। इस मौके पर प्रदेश की राजधानी के मोरहाबादी मैदान में देश की नामचीन हस्तियां और आम लोगों के सामने हेमंत सोरेन ने प्रदेश के 11वें मुख्‍यमंत्री की शपथ ली। झारखंड की राज्‍यपाल द्रौपदी मुर्मू ने हेमंत सोरेन को मुख्‍यमंत्री पद की शपथ दिलाई। हेमंत दूसरी बार प्रदेश के मुख्‍यमंत्री बने हैं। इससे पहले उन्‍होंने जुलाई 2013 में सीएम पद की शपथ ली थी। वो 28 दिसंबर 2014 तक इस पद पर रहे थे।

हेमंत के अलावा कांग्रेस पार्टी के आलमगीर आलम, रामेश्वर उरांव और राजद  के विधायक सत्यानंद भोक्ता ने भी मंत्री पद की शपथ ली। शपथ ग्रहण समारोह राजधानी रांची के मोरहाबादी मैदान में आयोजित किया गया। इसको लेकर तैयारियां जोरशोर से चल रही थी। आम से लेकर खास लोगों ने इस समारोह में हिस्सा लिया। मालूम हो कि झारखंड में तीन बार राष्‍ट्रपति शासन भी लग चुका है।

पाकुड़ विधायक आलमगीर आलम ने ली मंत्री पद की शपथ, चौथी बार विधायक हैं आलमगीर

आलमगीर आलम ने इस बार पाकुड़ विधानसभा सीट से सबसे बड़े अंतर से जीतने का रिकॉर्ड बनाया है। आलम ने भाजपा प्रत्याशी वेणी प्रसाद गुप्ता को 65,108 मतों के अंतर से हराया है। जीत का यह अंतर इस साल के झारखंड विधानसभा चुनाव में सबसे बड़ा है। आलम पाकुड़ से चाैथी बार विधायक चुने गए हैं। वह झारखंड के विधानसभा अध्यक्ष भी रह चुके हैं।

पूरा झारखंड उमड़ा था मोहराबादी मैदान में

झारखंड बनने के बाद इस बार का चुनाव जनता की उम्मीद पर हुआ। सरकार भी जनता की उम्मीद पर है। इसलिए इस सरकार के शपथ ग्रहण में पूरा प्रदेश उत्साहित था। इस कारण भारी संख्या में लोग प्रदेश के हर विधानसभा से पहुंचे थे। भीड़ से खचाखच भरा पूरा मोहराबादी मैदान आज इस समारोह का साक्षी बना।

आगंतुकों ने हेमंत को दी बधाई

शपथ ग्रहण समारोह में झारखण्ड की राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू, झारखण्ड के पूर्व मुख्यमंत्री दिशोम गुरु शिबू सोरेन, मुख्यमंत्री हेमंत साेरेन की माता रूपी सोरेन, कांग्रेस पार्टी के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, राज्यसभा के पूर्व सांसद शरद यादव, डीएमके अध्यक्ष एमके स्टालिन, कांग्रेस नेता केसी वेणुगोपाल, आरपीएन सिंह, झारखंड प्रभारी भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस, जीतन राम मांझी, पूर्व मुख्यमंत्री बिहार, रघुवर दास, पूर्व मुख्यमंत्री झारखण्ड सहित देशभर से विभिन्न राजनीतिक पार्टियों के कई गणमान्य नेता, सभी नव निर्वाचित विधायक, सांसदगण अन्य आगंतुक शामिल हुए। सभी आगंतुकों ने शपथ ग्रहण के उपरांत मुख्यमंत्री श्री हेमंत सोरेन को अपनी शुभकामनाएं और बधाई दी। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने सभी आगंतुकों के प्रति आभार व्यक्त किया।

सामान्य व्यक्तित्व को जनता ने दिया पूरा सम्मान

हेमंत सोरेन को सामान्य व्यक्तित्व के लिए जाना जाता है। आदिवासी संस्कृति के साथ जीने वाले हेमंत सोरेन को आदिवासी संस्कृति के साथ जनता ने सम्मान दिया। लोग ढोल बाजे के साथ समारोह में पहुंचे थे। आदिवासी संस्कृति के साथ लोगों ने हेमंत सोरेन का अभिवादन भी किया।