महेशपुर में लकड़ी तस्करी बदस्तूर जारी, पुलिस ने भुटभुटिया समेत लकड़ी किया जब्त

महेशपुर में लकड़ी तस्करी दस्तूर जारी, पुलिस ने भुटभुटिया समेत लकड़ी किया जब्त

  • एक सप्ताह में दुसरी बड़ी कार्रवाई

काजल मेहरा । महेशपुर: महेशपुर प्रखंड के पश्चिम बंगाल सीमावर्ती क्षेत्र में इन दिनों लॉक डाउन के बावजूद लकड़ी तस्करी का काम जोरों पर है। लकड़ी तस्कर रात के अंधेरे में महेशपुर अंचल के देवपुर, शिरीषतल्ला, भेटाटोला, मुहुबोना, अस्कंधा, बासकेंद्री, देवीनगर छक्कूधाड़ा, शहरग्राम, पोखरिया, चंडालमारा समेत कई जंगली क्षेत्र से लकड़ी तस्कर हरे भरे पेड़ को काटकर महेशपुर के रास्ते पश्चिम बंगाल सप्लाई करते हैं। बता दें कि महेशपुर के इन खुफिया रास्तों से प्रतिदिन लकड़ी तस्कर भुटभूटिया एवं छोटे वाहन के माध्यम से लकड़ी तस्कर को अंजाम देते हैं। महेशपुर के शहरग्राम पीर पहाड़ पश्चिम बंगाल पथ, महेशपुर के बड़कीयारी हाथीमारा कनकपुर पथ, मुर्गाडांगा राजग्राम पथ समेत कई ऐसे खुफिया रास्ते है जिससे लकड़ी तस्कर प्रतिदिन लकड़ी की सप्लाई करते हैं।

इन लकड़ी तस्करों पर वन विभाग का कोई लगाम नहीं है। वन विभाग के पदाधिकारी महेशपुर कार्यालय से नदारद रहते हैं। कभी कदार ही कार्यालय घंटे 2 घंटे के लिए पहुंचते हैं और फिर गायब हो जाते हैं। जिससे लकड़ी तस्कर का मनोबल दिन प्रतिदिन बढ़ता ही जा रहा है।वही दुसरी ओर महेशपुर पुलिस इन लकड़ी तस्करों को रोकने में थोड़ी बहुत कामयाबी भी मिली है इसी कड़ी में महेशपुर पुलिस पिछले एक सप्ताह में 3 भुटभूटिया लकड़ी समेत तीन तस्करों को गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है।

महेशपुर पुलिस ने सोमवार को गुप्त सूचना के आधार पर थाना क्षेत्र के राजापुर गांव के पास थाना प्रभारी उमाशंकर सिंह, एएसआई अनिल कुमार सिंह, सुरेश प्रसाद दल बल के साथ छापेमारी कर एक भुटभुटिया में लदे दर्जनों चिरा हुआ लकड़ी जप्त किया है। वही तस्कर मौके पर से फरार होने में कामयाब रहे। पुलिस भुटभुटिया समेत लकड़ी को जप्त कर महेशपुर थाना ले आई और आवश्यक कार्रवाई के लिए मामले की अनुसंधान में जुटी है।